Goat Farming Loan 2023: बकरी पालन के लिए ऐसे मिलता है लोन, होगी जबरदस्त कमाई, सरकार भी करेगी मदद

Goat Farming Loan 2023: बकरी पालन का व्यवसाय हमारे देश में तेजी से बढ़ रहा है। लोगों के बीच बकरी पालन की लोकप्रियता के कई मुख्य कारण हैं।

बकरी के दूध (इसके औषधीय गुणों के कारण) और बकरी के मांस की बढ़ती मांग के कारण लोग इस व्यवसाय में अधिक रुचि दिखा रहे हैं। बकरी पालन के लिए आसानी से लोन भी लिया जा सकता है जिसकी मदद से इस व्यवसाय को शुरू किया जा सकता है।

कई लोग जो पशुपालन फार्म शुरू करना चाहते हैं, उनके लिए पैसे की कमी एक बड़ी चुनौती है। वर्तमान में कर्ज लेने का फायदा यह है कि कई बैंक बीमा के साथ-साथ पशुपालन के लिए कर्ज भी देते हैं।

यह पशु फार्म के मालिक को अतिरिक्त लाभ और वित्तीय सुरक्षा देता है। विभिन्न राज्य सरकारें बैंकों और नाबार्ड की मदद से बकरी पालन को बढ़ावा देने के लिए सब्सिडी योजनाएँ प्रदान करती हैं।

बकरी पालन के लिए बेहद आकर्षक दरों पर कर्ज देने में नाबार्ड सबसे आगे है। यह विभिन्न वित्तीय संस्थानों के सहयोग से उधारकर्ताओं को ऋण प्रदान करता है जैसे ..

  • व्यावसायिक बैंक
  • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
  • राज्य सहकारी कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक
  • राज्य सहकारी बैंक
  • शहरी बैंक
  • अन्य जो नाबार्ड से पुनर्वित्त के लिए पात्र हैं

इस योजना के तहत, एक उधारकर्ता बकरियों की खरीद पर खर्च किए गए धन का 25-35% सब्सिडी के रूप में प्राप्त करने का हकदार है।

अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति समुदाय और बीपीएल श्रेणी से संबंधित लोग 33 प्रतिशत तक सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं, जबकि ओबीसी से संबंधित अन्य लोग 25 प्रतिशत सब्सिडी के लिए उत्तरदायी हैं, जो अधिकतम 2.5 लाख रुपये है।

सरकार लोगों की मदद करती है

केंद्र सरकार ने बकरी पालन को बढ़ावा देने के लिए ‘राष्ट्रीय पशुधन मिशन’ शुरू किया है। राष्ट्रीय पशुधन मिशन के तहत देश में पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को सब्सिडी दी जाती है।

राष्ट्रीय पशुधन मिशन में कई योजनाएं हैं, जिनमें अलग-अलग योजनाओं के लिए अलग-अलग सब्सिडी दी जाती है।

राष्ट्रीय पशुधन मिशन के तहत विभिन्न राज्य सरकारों की सब्सिडी की राशि भी अलग-अलग होती है, क्योंकि यह एक केंद्रीय योजना है।

लेकिन कई राज्य सरकारें अपनी ओर से सब्सिडी का कुछ हिस्सा जोड़ देती हैं, जिससे सब्सिडी की राशि बढ़ जाती है।

इस तरह आप बकरी पालन की शुरुआत कर सकते हैं

अगर आप भी बकरी पालन में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो आपको बस कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। बकरी पालन शुरू करने के लिए आवेदन पत्र लिखकर विकासखंड के पशु चिकित्सा अधिकारी को जमा करा सकते हैं।

पशु चिकित्सा अधिकारी यहां प्राप्त आवेदनों में से कुछ आवेदनों का चयन करते हैं। अब इन आवेदनों को जिला स्तरीय जिला पशुधन मिशन समिति को भेजा जाता है। यही कमेटी अंतिम चयन करती है।

Read More

Leave a Comment