Government Scheme : मछली पालन से कमाएं लाखों, नहीं होगी नौकरी की टेंशन

Government Scheme : आजकल खेती के लिए कई नई तकनीकें आने लगी हैं। किसान इन तकनीकों का इस्तेमाल कर खेती कर रहे हैं और बेहतर मुनाफा कमा रहे हैं।

इधर, किसानों में एक और चलन काफी बढ़ गया है। यानी किसान सब्सिडी पर अपने खेतों में तालाब खुदवा रहे हैं और मछली पालन कर रहे हैं। इसके लिए सरकार भी लगातार किसानों को प्रोत्साहित कर रही है। इससे किसानों का मुनाफा लगातार बढ़ रहा है।

मध्य प्रदेश के सिवनी जिले के रहने वाले संतोष कुमार ने अपने खेत में तालाब बनाकर मछली पालन शुरू किया। उन्होंने प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना का लाभ उठाते हुए अपने खेत में तालाब खुदवाया है।

यह तालाब जो 0.10 हेक्टेयर भूमि पर बना है। इसमें उन्होंने पैंगेसियस मछली पालना शुरू कर दिया है। पहले साल में उन्हें 2500 किलो मछली का उत्पादन मिला। इससे उन्हें करीब 2.50 लाख की आय हुई।

जब उन्होंने अपना सारा खर्च वसूल कर लिया। इसलिए उन्हें करीब 1.50 लाख रुपए का मुनाफा हुआ। इसी क्रम में उन्होंने दूसरे साल करीब 4000 किलो मछली का उत्पादन किया। इससे उन्हें 3 लाख रुपये से अधिक की आय हुई।

हर साल बढ़ता मुनाफा

पिछले साल उन्होंने दो पालियों में करीब आठ हजार पंगेशियस मछली का बीजारोपण किया। इनमें से 3500 किलो मछलियां निकाली जा चुकी हैं।

उनके तालाब में अभी भी इतनी मछलियां बची हैं, वे उम्मीद कर रहे हैं। कि इस साल वे 7 टन मछली का उत्पादन करेंगे। जिससे उनकी आय 6 लाख रुपये से अधिक होगी।

क्या है पीएम मत्स्य संपदा योजना

किसानों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से पीएम मत्स्य संपदा योजना की शुरुआत की गई थी. मत्स्य पालन के क्षेत्र में अब तक जो योजनाएं लागू की गई हैं, वह यह योजना है।

उन योजनाओं को सबसे बड़ी योजना माना जाता है। इस योजना के तहत किसानों को मछली पालन के लिए कर्ज दिया जाता है। साथ ही किसानों को नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाता है।

मछली पालन के लिए ऋण

सब्सिडी प्राप्त करें यदि आप मछली पालन के लिए ऋण लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले अपने क्षेत्र के मत्स्य विभाग से संपर्क करना होगा।

यदि आप अनुसूचित जाति से हैं और या आप एक महिला हैं और आप मछली पालन व्यवसाय के लिए लोन लेना चाहते हैं, तो आपको व्यवसाय शुरू करने के लिए 60 प्रतिशत अनुदान दिया जाता है। वहीं, सभी को 40 फीसदी तक की सब्सिडी मुहैया कराई जाती है।

Leave a Comment