PM Kusum Yojana : इस योजना से होगी लाखों की कमाई, जानें, पूरी जानकारी

PM Kusum Yojana : केंद्र सरकार की ओर से किसानों के लिए एक बेहद खास योजना चलाई गई है। इससे किसान खेती के साथ-साथ लाखों रुपए की कमाई कर सकते हैं।

दरअसल केंद्र सरकार की तरफ से किसानों को खेती के लिए सिंचाई के काम के लिए सोलर पंप दिए जा रहे हैं। इसके लिए सरकार ने पीएम कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) की शुरुआत की है।

इसके तहत किसानों को उनके खेतों में सोलर पंप लगाने के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी भी दी जाती है ताकि किसानों को कम लागत में इसका लाभ मिल सके।

इस योजना में सोलर पंप लगवाकर किसान घर बैठे इससे अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। आज हम चर्चा करेंगे कि ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से किसान पीएम कुसम योजना से लाखों रुपये कैसे कमा सकते हैं।

साथ ही आपको इस योजना की पात्रता, शर्तें, सब्सिडी, आवेदन प्रक्रिया और दस्तावेजों की पूरी जानकारी भी दी जाएगी। तो हमारे साथ बने रहें।

PM Kusum Yojana से कैसे कमाई की जा सकती है

प्रधानमंत्री कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) से किसान तीन तरह से बचत और पैसा कमा सकते हैं। सोलर पंप सिस्टम लगाने के लिए शुरुआत में आपको केवल एक बार पैसा खर्च करना पड़ता है लेकिन उसके बाद आप इससे काफी पैसा कमा सकते हैं साथ ही पैसे भी बचा सकते हैं।

बिजली के भारी बिल से छुटकारा मिलेगा, पैसों की बचत होगी

सोलर पंप सिस्टम लगाकर किसान 24 घंटे अपने खेतों की नि:शुल्क सिंचाई कर सकते हैं। सोलर सिस्टम लगाने से आपका बिजली का बिल बहुत कम आएगा। इससे आप बिजली के भारी बिल से बच जाएंगे।

साथ ही बार-बार बिजली कटौती की समस्या से भी निजात मिलेगी। अक्सर देखा जाता है कि गांवों में कई घंटे बिजली कट जाती है जिससे किसान परेशान रहते हैं।

लेकिन सोलर पंप लगाने के बाद सिंचाई कार्य बाधित नहीं होगा और न ही इसका बिल आएगा। इस तरह साल भर मुफ्त सिंचाई देने के साथ-साथ आप अपने बिजली के बिल के पैसे भी बचा सकेंगे।

अतिरिक्त बिजली बेचकर कमाई की जाएगी

पीएम कुसुम योजना के जरिए सरकार किसानों को कमाई का मौका भी दे रही है। सोलर पंप सिस्टम से आप खुद बिजली पैदा कर सकते हैं।

अगर आप अपने इस्तेमाल के अलावा बिजली पैदा करते हैं तो आप इस अतिरिक्त बिजली को ग्रिड (विद्युत वितरण निगम) को बेचकर भी अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।

सौर प्रणाली स्थापना के लिए खाली पड़ी जमीन को पट्टे पर देना

इतना ही नहीं, अगर आपके पास खाली पड़ी जमीन है तो आप उसे सोलर सिस्टम लगाने के लिए सरकार को लीज पर देकर भी कमाई कर सकते हैं। इसके लिए सरकार आपको जमीन का किराया देगी जिससे आपको घर बैठे एक फिक्स इनकम होती रहेगी।

PM Kusum Yojana क्या है?

पीएम कुसुम योजना की शुरुआत वर्ष 2019 में भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय द्वारा की गई थी। यह केंद्र सरकार की योजना है।

इस योजना के माध्यम से किसानों के डीजल से चलने वाले पंपों को सौर ऊर्जा पंपों में बदलने का काम शुरू किया गया है। इस योजना की घोषणा पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने की थी।

किसानों को सिंचाई की सुविधा देने और बिजली पर निर्भरता कम करने के लिए पीएम कुसुम योजना चलाई जा रही है। इस योजना के लिए सरकार द्वारा लगभग 34,422 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

PM Kusum Yojana की जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

PM Kusum Yojana में कितनी मिलेगी सब्सिडी

पीएम कुसुम योजना के तहत किसानों को उनके खेतों में सोलर पंप लगाने के लिए सरकार द्वारा 60 फीसदी तक सब्सिडी दी जाती है।

इसमें 30 प्रतिशत केंद्र सरकार और 30 प्रतिशत राज्य सरकार सहायता प्रदान करती है। वहीं, इसके लिए बैंक से 30 फीसदी कर्ज लिया जा सकता है। अब बाकी का 10 फीसदी पैसा किसानों को देना है।

इस तरह मात्र 10 प्रतिशत पैसा खर्च कर किसान अपने खेतों में सोलर पंप लगाकर इसका लाभ उठा सकते हैं।

PM Kusum Yojana की पात्रता और शर्तें

  • पीएम कुसुम योजना के लिए कुछ पात्रता और शर्तें निर्धारित की गई हैं, जो इस प्रकार हैं।
  • आवेदन करने वाला व्यक्ति भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • कुसुम योजना के तहत आवेदक 0.5 मेगावाट से 2 मेगावाट क्षमता के सौर ऊर्जा संयंत्र के लिए आवेदन कर सकता है।
  • आवेदक अपनी भूमि या वितरण निगम द्वारा अधिसूचित क्षमता (जो भी कम हो) के अनुपात में 2 मेगावाट क्षमता के लिए आवेदन कर सकता है।
  • प्रति मेगावाट के लिए लगभग 2 हेक्टेयर भूमि की आवश्यकता होगी।
  • इस योजना के तहत स्वयं के निवेश वाली परियोजना के लिए किसी प्रकार की वित्तीय योग्यता की आवश्यकता नहीं है।
  • यदि परियोजना का विकास आवेदक द्वारा किसी विकासकर्ता के माध्यम से किया जा रहा है तो विकासकर्ता के पास प्रति मेगावाट एक करोड़ रुपये की निवल संपत्ति होना अनिवार्य है।
  • पीएम कुसुम योजना में आवेदन के लिए किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी

PM Kusum Yojana में आवेदन करने के लिए किसानों को जिन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी वह इस प्रकार हैं।

  • सोलर पम्प की ऑनलाइन बुकिंग हेतु विभागीय वेबसाइट https://pmkusum.mnre.gov.in/ पर लॉग-इन करें।
  • लॉग-इन करने के बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • अब आपके सामने “अनुदान पर सोलर पम्प हेतु बुकिंग करें” लिंक पर क्लिक करें
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी दर्ज करें।
  • मांगे गए दस्तावेजों को अपलोड कर के सबमिट बटन पर क्लिक करें।

PM Kusum Yojana की अधिक जानकारी के लिए कहां करें संपर्क

प्रधानमंत्री कुसुम योजना को राज्य सरकार के विभागों द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है। योजना की अधिक जानकारी के लिए नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) की आधिकारिक वेबसाइट www.mnre.gov.in पर विजिट कर सकते हैं। इसके अलावा इस योजना के टोल फ्री नंबर 1800-180-3333 पर डायल कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री सौर पंप योजना के लिए पूर्ण लाभार्थी योगदान

Category

Beneficiary Contribution

3 HP Beneficiary Contribution

5 HP Beneficiary Contribution

7.5 HP Beneficiary Contribution

General 10% Rs. 16560/- Rs. 24710/- Rs. 33455/-
SC 5% Rs. 8280/- Rs. 12355/- Rs. 16728/-
ST 5% Rs. 8280/- Rs. 12355/- Rs. 16728/-

Leave a Comment